logo
30 जुलाई 2021
30 जुलाई 2021

चुनाव

अराजकता, गुंडा-गर्दी, धांधली, मारपीट, फायरिंग और लूटपाट के बीच सम्पन्न हुआ ब्लाक प्रमुखों का नामांकन

Posted on: Thu, 08, Jul 2021 10:48 PM (IST)
अराजकता, गुंडा-गर्दी, धांधली, मारपीट, फायरिंग और लूटपाट के बीच सम्पन्न हुआ ब्लाक प्रमुखों का नामांकन

लखनऊः समाजवादी पार्टी पर गुण्डों की पार्टी होने के आरोप लगते रहते हैं। लेकिन सत्ता में आने के बाद बीजेपी ने ऐसा रंग बदला कि सपा को काफी पीछे छोड़ दिया। नफरत और जाति धर्म की राजनीति के दम पर सत्ता के शीर्घ तक पहुंचने वाली भाजपा को सबक सिखाने के लिये सपा ने भी कमर कसा है। सपा नेता कह रहे हैं बीजेपी से बहुत कुछ सीखने को मिला।

मसलन शेर को कभी न कभी सवा शेर मिल ही जाता है। फिलहाल उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में ब्लॉक प्रमुख चुनाव के लिए नामांकन के दौरान तमाम जिलों में अराजकता, गुंडा-गर्दी, धांधली, मारपीट, फायरिंग और लूटपाट का माहौल था। सत्ता के नशे में लोकतांत्रिक मर्यादायें तार तार हो रही थीं और डीएम एसपी तमाशा देख रहे थे। जिन जिलों से बवाल की खबरें आई हैं वे कन्रौज, सीतापुर, बुलंदशहर, पीलीभीत, झांसी, उन्नाव, अयोध्या, बस्ती, गोरखपुर, सम्भल, चित्रकूट, जालौन, फतेहपुर, एटा, अंबेडकर नगर, महराजगंज हैं। यहां खुलेआम फायरिंग, मारपीट हुई, परचे छीन लिये गये, प्रत्याशियों को बंधक बनाया गया।

कई जिलों में प्रत्याशी के समर्थकों ने एक-दूसरे पर फायरिंग करते हुए लाठी डंडों से हमला करते रहे और पुलिस हाथ बांधे खड़ी थी। कन्नौज, देवरिया, एटा, रायबरेली समेत कई जिलों में कवरेज को पहुंचे पत्रकारों पर ही प्रत्याशियों के समर्थकों ने हमला किया। पत्रकारों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया। अंबेडकर नगर में पूर्व मंत्री लालजी वर्मा के हाथों से पर्चा ही उपद्रवियों ने छीन लिया। गोरखपुर में पुलिस ने सपा कार्यकर्ताओं पर लाठी चार्ज किया है। सिद्धार्थनगर में सपा सरकार में विधानसभा अध्यक्ष रहे माता प्रसाद के हाथ से परचा छीनकर उन्हे धक्के देकर अपमानित किया गया।

एटा के मारहरा ब्लॉक में नामांकन के दौरान जमकर बवाल हुआ है। बीच-बचाव करने आए कई पुलिसकर्मी और कवरेज करने गए पत्रकार भी घायल हो गए हैं। महराजगंज के सदर ब्लॉक पर भाजपा और निर्दलीय प्रत्याशी के समर्थक भिड़ गए हैं। बुलंदशहर के स्याना ब्लॉक में नामांकन के दौरान बीजेपी के दो गुटों में भिड़ंत हो गई। कन्नौज में सदर ब्लॉक में ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान पुलिस के सामने ही बवाल हो गया। कमलापुर थाना क्षेत्र के कसमंडा ब्लॉक में दो गुटों में खूनी संघर्ष हुआ। कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे पर गोलियां चला दीं। लगातार गोलियां चलती रहीं, पुलिस देखती रही।

पीलीभीत में भाजपा से टिकट पाने वाले सर्वजीत सिंह ने बीच रोड पर अपनी गाड़ियां लगाकर प्रत्याशियों को नामांकन करने से रोका। प्रत्याशी श्याम सिंह की मानें तो उनकी गाड़ी पर हमला भी किया गया। झांसी के बड़ागांव ब्लॉक में ब्लॉक प्रमुख के लिए सपा-भाजपा आमने-सामने आ गई। मया ब्लॉक के नामांकन में सपा व ठश्रच् कार्यकर्ताओं में जबरदस्त मारपीट हुई। सपा प्रत्याशी धर्मवीर वर्मा के प्रस्तावक राजेश कुमार को भाजपा कार्यकर्ताओं ने जमकर पीटा, जिसमें वे घायल हो गए। बस्ती जिले के बनकटी ब्लाक की आरक्षित सीट पर दो प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भिड़ गए। एक-दूसरे पर लाठी और डंडों से हमला कर दिया। दुबौलिया ब्लाक में गोली चली। दो घायल हुये। गौर ब्लाक में भी भारी बवाल हुआ।