logo
13 जून 2021
13 जून 2021

सेहत/प्राकृतिक चिकित्सा

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान

Posted on: Tue, 08, Jun 2021 10:48 PM (IST)
प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान

बस्तीः जिला महिला अस्पताल सहित जिले के 20 अस्पतालों में गर्भवती के स्वास्थ्य की जांच बुधवार को की जाएगी। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत माह की हर नौ तारीख को अस्पतालों में इसका आयोजन किया जा रहा है। इस अभियान का उद्देश्य मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को न्यूनतम करना है। सीएमओ डॉ. अनूप कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि जिला महिला अस्पताल, सभी ब्लॉक स्तरीय अस्पताल के अलावा साऊंघाट ब्लॉक के पैड़ा व ओड़वारा पीएचसी में आयोजन होगा। पुरानी बस्ती क्षेत्र में नगरीय पीएचसी नरहरिया व बरदहिया में भी कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।

गर्भवती केंद्र पर अस्पताल के समय आकर अपनी शुगर, हीमोग्लोबीन, सिफलिस आदि की जांच कराएं। जांच में अगर कोई महिला हाई रिस्क प्रेग्नेंसी (एचआरपी) के रूप में चिन्ह्ति होती है, तो उसका सुरक्षित प्रसव हॉयर सेंटर पर कराया जाता है। एचआरपी महिलाओं पर संबंधित अधिकारियों की नजर होती है। एसीएमओ आरसीएच डॉ. सीके वर्मा ने बताया कि कोरोना प्रोटोकॉल के तहत कार्यक्रम का आयोजन किया जाना है।

सभी चिकित्सकों को इसके लिए पहले से ही निर्देशित कर दिया गया है। आशा कार्यकर्ताओं को निर्देशित किया गया है कि वह अपने क्षेत्र की गर्भवती को अस्पताल लाकर सबसे पहले उसका पंजीकरण कराए तथा उसके बाद जांच कराएं। सभी केंद्र पर एमबीबीएस चिकित्सक द्वारा जांच की जाएगी। सभी जांच निःशुल्क कराई जाएगी। पूरी गर्भावस्था के दौरान चार जांच की जाती है। संस्थागत प्रसव कराने पर जोर दिया जाता है। कोरोना के केस कम होने के बाद अन्य योजनाओं की तरह इस योजना पर भी विभाग का अब विशेष जोर है।

कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें

जो भी गर्भवती जांच के लिए अस्पताल आ रही है, उसे चाहिए कि वह कोविड प्रोटोकॉल का पालन पूरी तरह करें। डॉ. सीके वर्मा ने बताया कि महिलाओं को चाहिए कि वह घर से मॉस्क लगाकर आए। अस्पताल में अन्य लोगों से शारीरिक दूरी बनाकर रखे। अपनी बारी आने पर ही चिकित्सक के कमरे में जाकर दिखाएं। अनावश्यक चीजों को न छुए। सेनेटाईजर या साबुन-पानी से हाथ को नियमित रूप से धोती रहें।