logo
31 अक्टूबर 2020
31 अक्टूबर 2020

सेहत/प्राकृतिक चिकित्सा

दिल का मामला है सावधान रहिये !

Posted on: Tue, 29, Sep 2020 10:15 PM (IST)
दिल का मामला है सावधान रहिये !

29 सितंबर को हमेशा की तरह इस बार भी ‘विश्व हृदय दिवस’ मनाया जा रहा है। इसका उद्देश्य लोगों को हृदयरोग के बारे में जागरूक करना है. हृदयरोग के मरीजों की संख्या दुनियाभर में लगातार बढ़ती जा रही है. डॉक्टरों का मानना है कि कोरोना महामारी समय में दिल की बीमारी लोगों को ज्यादा नुकसान पंहुचा रही है, जिसकी वजह से कोविड-19 के डर से दिल के मरीज घर में ही रहने के लिए मजबूर हैं। गलत खानपान, हर वक्त तनाव में रहना और समय पर एक्सरसाइज न करने की वजह से ये बीमारी अक्सर होती है।

35 से ज्यादा उम्र के युवाओं में भी इनएक्टिव लाइफस्टाइल और खाने पीने की खराब आदतों के कारण दिल की बीमारी होने का खतरा बढ़ रहा है। दुनिया की सबसे खतरनाक बीमारी हार्ट अटैक है। दुनिया में होने वाली 30 फीसदी से ज्यादा मौतों का अकेला कारण हार्ट अटैक होता है। हार्ट अटैक के अलावा दिल की दूसरी बीमारियां जैसे हार्ट फेल्योर, कार्डियक अरेस्ट, दिल की धड़कन का घटना-बढ़ना आदि भी काफी खतरनाक हैं।

बस्ती के जिला चिकित्सालय में तैनात आयुष चिकित्साधिकारी एवं डा. वर्मा इन्स्ट्टीयूट ऑफ मेडिकल साइंस के संस्थापक डा. वी.के. वर्मा कहते हैं कि अगर आप दिल की बीमारियों से बचना चाहते हैं, तो इसका सबसे आसान तरीका है कि आप नमक कम खाएं। जरूरत से ज्यादा खाया गया एक चुटकी नमक भी आपको 40 साल की उम्र के बाद हाई ब्लड प्रेशर और हार्ट अटैक का शिकार बना सकता है। डा. वर्मा ने कहा व्यक्ति अगर रोज की खुराक में 3 ग्राम नमक कम कर दे, तो उसे खतरा 20 फीसदी तक कम किया जा सकता है।

इतना ही नहीं इससे हृदय संबंधी अन्य रोगों का खतरा भी कम हो जाता है। जरूरत से ज्‍यादा मात्रा में सोडियम उत्‍पादों का सेवन करने से आपका शरीर अधिक मात्रा में पानी सोखने लगता है। इससे हमारे दिल और रक्‍तवा‍हिनियों पर दबाव बढ़ जाता है। कुछ लोगों में इसके कारण हाई ब्लड प्रेशर की समस्‍या भी हो सकती है। सोडियम की मात्रा कम करने से आप अपना ब्लड प्रेशर नियंत्रित रख सकते हैं। जिन लोगों का ब्लड प्रेशर अधिक होता है, उन्‍हें दिल की बीमारियां और स्‍ट्रोक होने का खतरा अधिक होता है।

अधिकतर लोगों को इस बात की जानकारी भी नहीं होती कि वे अधिक मात्रा में नमक का सेवन कर रहे हैं। एक चम्‍मच नमक में 2300 मिली ग्राम सोडियम होता है। जबकि आपके शरीर को रोजाना केवल 200 मिली ग्राम सोडियम की जरूरत होती है। रोजाना की खुराक में आधा चम्मच नमक लेना कम कर दिया जाए तो लाखों लोगों की जिंदगी बच सकती है। डा. वीके वर्मा ने सलाह दी कि अधिक नमक युक्त खाद्य पदार्थ लेने से परहेज करना और खाने में अलग से नमक लेने से बचना चाहिए। उन्होंने कहा कि खान-पान के साथ धूम्रपान से परहेज कर और रोजाना 40-45 मिनट नियमित व्यायाम कर हृदय रोगों से बचा जा सकता है। डा. वीके वर्मा संपर्क 9415163328