• Subscribe Us

logo
27 जून 2022
27 जून 2022

विज्ञापन
मीडिया दस्तक में आप का स्वागत है।
सेहत/प्राकृतिक चिकित्सा

डिहाइड्रेशन से बचायेंगे ये फूड्स, सावधानी से करें यूज़

Posted on: Fri, 27, May 2022 4:39 PM (IST)
डिहाइड्रेशन से बचायेंगे ये फूड्स, सावधानी से करें यूज़

गर्मी का मौसम है। शरीर में पानी और ग्लूकोज की मात्रा कम होना नुकसानदायक हो सकता है। ऐसे मौसम में शरीर को हाइड्रेट रखना जरूरी होता है। खास बात ये है कि इसके लिये पानी के साथ साथ अन्य खाद्य पदार्थों का भी सेवन कर सकते हैं। खीरा और ककड़ी सबसे बेहतर है। गर्मी आते ही तरबूज, खरबूज और खीरा जैसे ठंडे और पानी से भरे फूड्स की मांग बहुत ज्यादा होने लगती है।

खीरा और ककड़ी न सिर्फ भोजन के साथ बड़ी आसानी से खाए जा सकते हैं बल्कि ये वजन कम करने में काफी मददगार साबित होते हैं। खीरे में मौजूद पानी की मात्रा, विटामिन सी और कई आवश्यक पोषक तत्व इसे आपके लिए गर्मियों का एक बेहतरीन फूड बनाते हैं. जो आपको हाइड्रेट रखने के साथ-साथ आपका पेट भी साफ रखता हैं। खीरा स्किन को ग्लोइंग बनाता है। लेकिन खीरे को अगर गलत ढंग से खाया जाए तो ये सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है. ऐसे में हम आपको बताना चाहते हैं कि खीरा खाने के बाद किन चीजों सेवन नहीं करना चाहिए ?

खीरा खाने के तुरंत बाद न पिएं पानी

बहुत से लोग खीरा खाने के तुरंत बाद पानी पी लेते हैं या फिर सलाद के रूप में खीरा खा लेते हैं. जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए. खीरे में पानी की भरपूर मात्रा होती है. अगर खीरे के ऊपर पानी पी लिया जाएं तो खांसी और पेट में दर्द की समस्या हो सकती है।

खीरा खाने के बाद लस्सी पीना

गर्मियों में कुछ लोगों को भोजन के बाद लस्सी ज्यादा पसंद होता है. लेकिन अगर आपने सलाद के रूप में खीरा खाया है तो आपको खाने से साथ लस्सी पीने से बचना चाहिए। खीरे के बाद लस्सी पीने से आपको पेट संबंधी समस्याएं हो सकती है. इसलिए खीरे के बाद लस्सी नहीं पीना चाहिए।

खीरा खाने के बाद दूध न पिएं

खीरा खाने के बाद कभी भी आपको दूध नहीं पीना चाहिए. क्योंकि दूध में मौजूद तत्व काफी गर्म होते हैं और खीरा खाने के बाद दूध पीने से आप ठंडे-गर्म के शिकार हो सकते हैं. इसलिए खीरा खाने के बाद दूध पीने से बचना चाहिए। यहां दी गई जानकारी घरेलू नुस्खों और सामान्य जानकारियों पर आधारित है। आप इच्छानुसार चिकित्सीय सलाह भी ले सकते हैं।


ब्रेकिंग न्यूज
UTTAR PRADESH - Basti: राष्ट्रोत्कर्ष दिवस के रूप में मनाया गया शंकराचार्य जी का जन्मोत्सव Gorakpur: बांसगांव से गायब बुजुर्ग के लिये आई फिरौती की डमांड Prayagraj: प्रयागराज में ट्रक ने छात्र को कुचला, देर रात तक हुआ हंगामा