• Subscribe Us

logo
09 फ़रवरी 2023
09 फ़रवरी 2023

विज्ञापन
मीडिया दस्तक में आप का स्वागत है।
Uttar pradesh

जीते-जी मिथक बन चुके थे महाकवि निराला

Posted on: Tue, 24, Jan 2023 9:36 PM (IST)
जीते-जी मिथक बन चुके थे महाकवि निराला

बस्ती। मंगलवार को प्रेमचन्द साहित्य एवं जन कल्याण संस्थान द्वारा वरिष्ठ साहित्यकार सत्येन्द्रनाथ मतवाला के संयोजन में कलेक्ट्रेट परिसर में महाकवि सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला की जयन्ती के परिप्रेक्ष्य में संगोष्ठी का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि वरिष्ठ चिकित्सक एवं साहित्यकार डा. वी.के. वर्मा ने कहा कि वसंत पंचमी की बात चले और सरस्वती पुत्र निराला की याद न आए, यह संभव नहीं।

‘वर दे वीणा वादिनी’ का महाघोष करने वाला यह महाकवि अपनी अमर वाणी से हिंदी कविता में अमर हो गया। उनकी रचनाओं में जहां वसंत का उल्लास है तो ‘सरोज स्मृति’ की पीड़ा भी। वसंत के कुछ पहले ही चीनी सेना का भारत पर आक्रमण हुआ था और निराला ‘तुलसीदास’ से होते हुए ‘राम की शक्तिपूजा’ तक जा पहुंचे थे। वे युगों तक याद किये जायेंगे। साहित्यकार सत्येन्द्रनाथ मतवाला ने कहा कि महाकवि निराला के इतने किस्से हैं कि वे जीते-जी मिथक बन चुके थे।

निराला जयन्ती के परिप्रेक्ष्य में आयोजित संगोष्ठी में डा. श्याम प्रकाश शर्मा, बी.के. मिश्र, बाबूराम वर्मा, आदि ने कहा कि निराला जी का जीवन उनके ही शब्दों में कहें तो दुःख की कथा-सा है। तीन वर्ष की आयु में उनकी माँ का और बीस वर्ष के होते-होते उनके पिता का देहांत हो गया। पहले महायुद्ध के बाद फैली महामारी में उनकी पत्नी मनोहरा देवी का भी निधन हो गया। इस महामारी में उनके चाचा, भाई और भाभी का भी देहांत हो गया। इन झंझावतों के बीच भी निराला अपने लक्ष्य पर अडिग रहे। गोष्ठी में मुख्य रूप से अजमत अली सिद्दीकी, पेशकार मिश्र, सुशील सिंह पथिक, दीपक सिंह प्रेमी, सागर गोरखपुरी, राहुल यादव, राघवेन्द्र शुक्ल, दिनेश सिंह, दीनानाथ यादव, हरिश्चन्द्र शुक्ल आदि उपस्थित रहे।




ब्रेकिंग न्यूज
UTTAR PRADESH - Basti: अमृतकाल बजट पर विमर्श के बाद राहुल गांधी के विरूद्ध निन्दा प्रस्ताव पारित शराब तस्करों को पुलिस अधिकारियों का लोकेशन देने वाले दो सिपाही गिरफ्तार नकलचियों पर होगी गैंगस्टर की कार्यवाही पचवस झील का डीएम ने किया निरीक्षण पात्र गृहस्थी लाभार्थियों को 15 फरवरी तक Gorakpur: पिपराईच सीएचसी पर बीएमजीएफ टीम ने देखा पीएमएसएमए दिवस का आयोजन Lucknow: लखनऊ महानगर के निवर्तमान अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव सहित दर्जनों ने छोड़ी ‘आप’ अब कांग्रेस के साथ नोयडा में रोडवेज बस ने हीरो कम्पनी के कर्मचारियों को रौंदा, 3 की मौत, 4 घायल Bijnor: बिजनौर के एक ही परिवार के 5 लोगों की जम्मू-कश्मीर में मौत Siddharth Nagar: डीएम ने किया कलेक्ट्रेट के सामान्य सहायक पटल का निरीक्षण GUJRAT - Bharuch: सूदखोर की जमानत अर्जी रद