logo
07 मई 2021
07 मई 2021

Uttaranchal

सड़क किनारे पाइप, केबिल डालने वालों की खैर नहीं

Posted on: Tue, 30, Jan 2018 10:49 PM (IST)
सड़क किनारे पाइप, केबिल डालने वालों की खैर नहीं

नैनीतालः (कुंदन शर्मा) बिना अनुमति सडक किनारे केबिल व पेयजल लाइन डालने वालों के साथ ही दूसरे विभागां की सम्पत्ति को क्षति पहुंचाने वाले विभागो और संस्थाओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करते हुये कडी कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। यह निर्देश जिलाधिकारी दीपेन्द्र कुमार चौधरी ने मंगलवार को जिला कार्यालय में रोड कटिंग हेतु विभिन्न विभागों, निजी कम्पनी तथा व्यक्गित तौर पर सडको की खुदाई करने की समीक्षा बैठक मे दिये।

जिलाधिकारी ने बताया कि समाचार पत्र के विज्ञापन के माध्यम से रोड कटिंग सम्बन्धित प्रस्ताव विभागों एवं केबिल डालने वाली कम्पनियो से मांगे गये थे। इस क्रम में 12 प्रस्ताव प्राप्त हुये। उन्होने बताया कि नैनीताल भवाली मोटर मार्ग में एअर फोर्स, एमईएस भवाली द्वारा लाइन बिछाने, नैनीताल कालाढूगी मोटरमार्ग किमी0 21 से 34 तक आईडिया सैल्युलर प्रा0 लि0 द्वारा ओएफसी लाइन बिछाने, हल्द्वानी उप मार्ग से कुवरपुर तक तथा कुवरपुर से दानीबंगर तक तथा चोरगलिया थाने से दूरभाष केन्द्र तक ओएफसी केबिल बिछाने, आरके टैन्ट हाउस हल्द्वानी रोड से गैस गोदाम रोड एवं लिंक रोड मे रोड कटिंग, डहरियां क्षेत्र ग्राम पंचायत मुखानी के पार्वती विहार रोड में पेयजल लाइन डालने हेतु प्रस्ताव प्राप्त हुये है। इसके साथ ही हल्द्वानी विकास खण्ड के अन्तर्गत दुम्काबंगर, बच्चीधर्मा एवं रामपुर लामाचैड ग्राम पंचायतों में प्रधानमंत्री की डिजिटल इण्डिया परियोजना के तहत औप्टीकल फाइबर कनैक्टिविटी हेतु फाइबर संयंत्र स्थापना का भी प्रस्ताव प्राप्त हुआ है।

समीक्षा बैठक मे जिलाधिकारी ने सभी केबिल बिछाने वाली कम्पनियो के साथ ही ऐसे विभागो से भी कहा है कि वह पेयजल लाइन बिछाने, आप्टीकल फाइबर केबिल डालने से पहले अनुमति अवश्य प्राप्त कर लें तथा ध्यान रखे कि पेयजल, सीवर,केबिल बिछाने के बाद तुरन्त मिट्टी भरान का कार्य कराये तथा इन कार्यो मे क्षतिग्रस्त होने वाली सडको का निर्माण भी करें। उन्होने कहा कि सडकें हमारी जीवन रेखा है इनको क्षतिग्रस्त करने से आवागमन बाधित होने के साथ ही यातायात प्रभावित होता है, दुर्घटनाये होती है और जनमानस को कठिनाई भी हेती है। अतः जनसुविधाओ को देखते हुये अनावश्यक रूप से बिना अनुमति के सडको की कटिंग ना की जाए। बैठक मे लोनिवि, दूरसंचार विभाग के अधिकारी मौजूद थे।