logo
18 जनवरी 2022
18 जनवरी 2022

कृषि/बागवानी

रोजगार सृजन का सर्वोत्कृष्ट साधन बन रहा है मत्स्य पालन

Posted on: Wed, 01, Dec 2021 9:53 PM (IST)
रोजगार सृजन का सर्वोत्कृष्ट साधन बन रहा है मत्स्य पालन

बस्ती 01 दिसम्बर। शासन के मंशा के अनुसार मत्स्य पालन कार्यक्रमों को जनपदों में लागू कर योजनावार उत्पादन पर बल दिया जा रहा है। मत्स्य पालन ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना महामारी के दौरान बेरोजगार नवयुवकों में रोजगार सृजन एवं जीवन यापन का सर्वोत्कृष्ट साधन बन रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुये सस्ते दर पर अच्छी पैदावार वाली भारतीय कार्प मछलियों के वैज्ञानिक मत्स्य संवर्धन पर ध्यान दिया जा रहा है।

उक्त जानकारी उप निदेशक, मत्स्य जी.सी. यादव ने दी है। उन्होंने बताया कि इसी के तहत ग्राम सभा के मत्स्य पालन योग्य पड़े जलमग्न जमीन को दस वर्षीय पट्टे पर दिये जा रहे हैं। साथ ही समाज के गरीब तबके के मछुआ समुदाय को मस्त्य पालन हेतु मत्स्य विभाग द्वारा राष्ट्रीय कृषि विकास योजना एवं प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना में वित्तीय सहायता प्रदान कर उनके उत्पादन को दोगुना होने की योजना एवं नीति के तहत प्रोत्साहित किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि उक्त मत्स्य पालन विभाग द्वारा बैंकों के माध्यम से कृषकों को के.सी.सी. द्वारा अनुदान देकर उनके जीवन स्तर को बढ़ाया जा रहा है। मछली पालन विधि के साथ पशुपालन, मुर्गी पालन एवं बत्तख पालन को जोड़कर आमदनी में अतिरिक्त वृद्धि की जा रही है। इस प्रकार वर्तमान में मछली पालन रोजगार का ग्रामीण वासियों हेतु उत्कृष्ट साधन बन गया है। मत्स्य पालन से आम के आम गुठलियों के दाम के रूप में मछली और साथ में मुर्गी, बत्तख पालन का लाभ लिया जा सकता है।


ब्रेकिंग न्यूज
UTTAR PRADESH - Basti: कथक गुरू बिरजू महाराज के निधन से शोक की लहर मुठभेड़ में 3 शातिर लुटेरे गिरफ्तार, कई घटनाओं का हुआ खुलासा वामा सारथी ने कोतवाली परिसर में आयोजित किया खिचड़ी भोज असलहे के साथ दो गिरफ्तार दुष्कर्म मामले में उम्र कैद, 50 हजार का अर्थदण्ड तेज रफ्तार कार की चपेट में आये अधेड़ की मौत लाख प्रयासों के बावजूद नही बदल रही पुलिस के प्रति जनता की धारणा सोमवार को बस्ती में मिले 43 नये कोरोना पाजिटिव कहां जल रहे अलाव ? कांपने को मजबूर हैं लोग ह्यूमन सेफ लाइफ फाउण्डेशन ने जरूरतमंदों में बांटे पुराने गरम कपड़े, कहा आगे आयें सामाजिक संगठन प्रत्येक टीम कम से कम 150 लोगों का रोज करे टीकाकरण-डीएम नाराज होकर मुंबई चली गयी थी बालिका, सीडब्ल्यूसी ने परजिनों को सौंपा टीके की दोनों डोज लगवाये हैं तो डरें नहीं, सतर्क रहें, 5 काम जरूरी नेता नहीं जनसेवक बनकर काम करूंगा-बसन्त चौधरी Gorakpur: एसएसपी ने वर्चुअल बैठक कर हिस्ट्रीशीटरों के सत्यापन के दिए निर्देश अज्ञात हमलावरों ने एक व्यक्ति को मारपीट कर किया घायल Deoria: दुष्प्रचार से कोई प्रभाव नहीं पड़ता है-अधिशासी अभियंता बिजली विभाग