logo
20 सितम्बर 2021
20 सितम्बर 2021

कृषि/बागवानी

चार दिवसीय भ्रमण के अंतिम दिन अधिकारियों नें कालानमक धान के रोपाई का दिया टिप्स

Posted on: Tue, 06, Jul 2021 8:57 AM (IST)
चार दिवसीय भ्रमण के अंतिम दिन अधिकारियों नें कालानमक धान के रोपाई का दिया टिप्स

बस्तीः जनपद में कालानमक धान की जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए लखनऊ से आई बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन सहायतित यूपी गवर्मेंट की टेक्निकल सपोर्ट यूनिट की टीम नें सिद्धार्थ एफपीसी से जुड़े कालानमक धान की खेती कर रहे किसानों को जैविक तरीके से फसल उगाने की जानकारी दी।

भ्रमण के अंतिम दिन टीएसयू की टीम गौर ब्लाक के घुडकुआ गाँव में कालानमक की खेती करने वाले किसान बसंत लाल के यहाँ पहुंची जहाँ टीम के सदस्यों नें रोपाई के पूर्व जड़ शोधन करने का प्रदर्शन कर दूसरे किसानों को जानकारी दी. इस मौके पर अमलान दत्ता नें खेत में बायो फर्टिलाइजर के समुचित मात्रा के प्रयोग, जैविक तरीके से कीट व बिमारियों के नियंत्रण के बारे में बताया. मौके पर दूसरे ब्लाकों से कालानमक की खेती करने वाले किसान भी मौजूद रहे जिसमें राम नगर ब्लाक से अरविंद बहादुर पाल, रुधौली से अरविन्द बहादुर पाल, गौर से योगेन्द्र सिंह, सदर ब्लाक से राममूर्ति मिश्र, दुबौलिया से प्रेम प्रकाश सिंह व अमरेश सिंह मौजूद रहे।

इस मौके पर लखनऊ से आई वरिष्ठ अधिकारी प्रिया राय नें कहा की हमारा प्रयास है की किसानों की आय बढे ख़ास कर महिला किसानों का. उन्होंने मौके पर महिला किसानों द्वारा कालानमक धान की रोपाई भी कराई. इसके बाद टीएसयू की टीम कप्तानगंज ब्लाक के प्रगतिशील और नवाचारी किसान आज्ञाराम वर्मा के खेतों में पहुच कर उनके द्वारा किये जा रहे कालानमक धान के फसल जायजा लिया. टीम मेबर रजनीश नें बताया की कालानमक की खेती कर रहे विभिन्न किसानों के खेतों से मिट्टी का नमूना एकत्र किया गया है जिसकी जांच के बाद किसानों के मिट्टी में आवश्यक जरुरी तत्वों की कमी का पता चल सकेगा। इस मौके पर सिद्दार्थ टीम में अगुवाई कर रहे बृहस्पति कुमार पाण्डेय, अर्जुन, विजेंद्र पाल, धर्मेन्द्र कुमार पाण्डेय, राजेंद्र सिंह, सहित तमाम लोग मौजूद रहे।